रूस ने 20 जुलाई को MAKS एयरशो में अपने नए सुखोई स्टील्थ फाइटर जेट, “The Checkmate” का अनावरण किया, जिसे यूएस-निर्मित F-35 के साथ प्रतिस्पर्धा करने के लिए डिज़ाइन किया गया था, और इसके तुरंत बाद रूसी अधिकारियों द्वारा यह खुलासा किया गया कि विमान को पहले से ही एक एशियाई मिल गया था। देश का अपना पहला लॉन्च ग्राहक है जिससे भारत के विमान के संभावित ग्राहक होने की अटकलें लगाई जा रही हैं। एयरफोर्स के एक वरिष्ठ अधिकारी ने पुष्टि की कि भारत को अभी तक किसी भी आधिकारिक चैनल के माध्यम से ऐसी कोई पेशकश नहीं की गई है, लेकिन रूस भारत की लड़ाकू जेट आवश्यकता में अपने मिग -35 और एसयू -35 जेट की पेशकश जारी रखता है।

114 जेट के लिए भारतीय वायु सेना (IAF) के लड़ाकू विमानों की कोई नई प्रविष्टि नहीं है। अपने आधिकारिक अनावरण से ठीक पहले नवीनतम रूसी पेशकश के टीज़र प्रोमो वीडियो ने दिखाया था कि भारत निर्यात के लिए उसका लक्षित लक्ष्य था। MAKS एयरशो में IAF प्रतिनिधिमंडल ने कार्यक्रम स्थल पर “The Checkmate” स्टाल का दौरा किया, जैसा कि एयरशो के सभी भाग लेने वाले देशों ने किया था, लेकिन IAF को कार्यक्रम पर अलग-अलग ब्रीफिंग मिलने पर कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है।

आने वाले दिनों में “The Checkmate” को भारत में प्रचारित किया जाएगा और संभवत: यह भारत के प्रमुख रक्षा और अगले साल के लिए नियोजित एयरशो में शामिल हो जाएगा।

Share.

Leave A Reply